पी बी ओ आर | मुख्य पृष्ठ
<< पिछला पृष्ठ अगला पृष्ठ >>

युद्धक्षति पेंशन ः-
परिभाषा ः- इसका निरुपण पेंशन से किया जा सकता है ऐसे सस्त्र सेना कार्मिक जो युद्ध जैसी स्थिति में या युद्ध में घायल हो जाते उन्हें यह स्वीकृत की जाती है । यह एक क्षतिपूर्ति है जो कार्मिक को युद्ध में घायल होने पर मासिक रुप से उसके कार्यशील अक्षमता के कारण दी जाती है कार्मिक ने,निम्नलिखित युद्ध के समय निर्दिष्ट युद्ध जैसी स्थिति या समतुल्य परिस्थितियों में वहन की है । जब निम्नलिखित परिस्थितियों में सशस्त्र सेना कार्मिक विकलांगता के कारण सेवा से बाहर अथवा सेवानिवृत होता इस प्रकार पेंशन स्वीकृत की जाती है ।
(अ)अंतर्राष्ट्रिय युद्ध के समय शत्रु की कार्रवाई
(ब)देश के बाहर शांति सेना मिशन के साथ तैनाती के दौरान की गई कार्रवाई
(स)सीमावर्ती तनाव
(द)माइन बिछाते या निष्क्रिय करते समय जिसमे शत्रु की माइन सहित माइन तलाशने के अभियान में शामिल है ।
(च)नियंत्रण रेखा पर या अंतर्राष्ट्रिय सीमावर्ती कार्यवाही वाले क्षेत्रों में,शत्रु या स्वयं की सेना द्वारा बिछाई गई माइन को हटाते या युद्ध के समय उसमें विस्फोट के कारण हुई दुर्घटना
(छ)युद्ध जैसी स्थिति जिसमें निम्न के द्वारा आरोप्य/अपवृद्धि के मामले सम्मिलित है ।
(i)अभियान चलाए जाने हेत युद्ध क्षेत्र में जाते समय उग्रवादी द्वारा माइन विस्फोट आदि ।
(ii)युद्ध के दौरान बीमारी से बचने के लिए प्रशिक्षण अभ्यास या जिवित गोला बारुद के साथ प्रदर्शन
(iii)अभियान चलाए जाने के लिए जाते समय उग्रवादियों द्वारा अपहरण ।
(ज)अभियान चलाए जाने के लिए जाते समय उग्रवादी/उग्रवादियों असमाजिक तत्वों द्वारा हमला इयादि ।
(झ)उग्रवादियों असमाजिक तत्वों के विरुद्ध कार्रवाई आदि प्रदर्शनकारियों द्वारा विदर्ोह या दंगे को नियंत्रण करने हेतु । नागरिको के सहायतार्थ तैनाती के दौरान विकलांगता सरकार द्वारा समय-समय पर अधिसूचित अभियान के दौरान क्षति ।

यद्व क्षति पेंशन
युद्व क्षति पेंशन के अंश
युद्व क्षति पेशन में निम्नलिखित दो अंश शामिल है
सेवा अंश
युद्व क्षति अंश
युद्व क्षति पेंशन के प्रकार
अशक्तता होने पर युद्व क्षति पेंशन
सेवामुक्त/सेवानिवृति के पश्चात सेवा मे रोके रहने पर यद्व क्षति पेंशन

अगला विषय : युद्धक्षति पेंशन:क्रमशः
| साइट मैप | सम्पर्क करें | ©2017 PCDA(P)