n>
रक्षा सिविलियन | मुख्य पृष्ठ
<< पिछला पृष्ठ अगला पृष्ठ >>

जब सक्षम प्राधिकारी द्वारा दण्ड़स्वरुप किसी सरकारी कार्मिक को अनिवार्य सेवानिवृति दे दी जाती है तब उसे अनिवार्य सेवानिवृति की तिथि को प्राप्त होने वाली पेंशन या ग्रेच्यूटी कम-से-कम दो-तिहाई एवं पूर्णक्षतिपूर्ति पेंशन या ग्रेच्यूटी से अधिक नहीं होगी । तथापि, स्वीकृत पेंशन या अवार्ड़ दिनांक 01/04/2004 से 1913/ रु. कम नहीं होगा ।
यदि किसी सरकारी कर्मचारी को सेवा से बर्खास्त / हटा दिया जाता है तो पेंशन एवं ग्रेच्यूटी राशि जब्त कर ली जाएगी बशत उसे बर्खास्त / हटाने वाला सक्षम प्राधिकारी मामले को विशेष रुप से विचारणीय समझते हुए करुणामूलक भता स्वीकार कर सकता है । यह भता उस पेंशन या ग्रेच्यूटी या दोनों के दो तिहाई से अधिक नहीं होगा जो उसे करुणामूलक पेंशन पर सेवानिवृत होने के समय स्वीकार्य होता । करुणामूलक भत्ता दिनांक 01-09-2004 की प्रभावी तिथि से 1913/- रु. से कम नहीं होगा ।
अगला विषय : सार्वजनिक उपक्रमों में विलय पर पेंशन
| साइट मैप | सम्पर्क करें | ©2017 PCDA(P)